निर्भया के दोषी नीर-भय के क़िस्सा खत्म

निर्भया केस

 निर्भया के चारु दोषियन के आज सबेरे फांसी भइला के बाद जहां सभ लोग एकरा के निर्भया के मिलल इंसाफ कह रहल बाड़न ओहिजा एगो प्रबुद्ध भोजपुरिया आ सिरिजन ई-पतिरिका के उपसंपादक तारकेश्वर राय जी के का विचार बा जानीं एह लेख में। खिलाड़ी उ होला जे खेले में माहिर होला या त खिलाड़ी होलन नेता राजनेता जे राजनीति के अइसन माहीर खिलाड़ी होलन की जनता उनकरा भाषण पर लट्टू हो जाले । आ आपन बहुमुल्य मत उनकरा झोरी में डाल के जितावेले आ फेर पाँच बरिस उनकरा पाछे पाछे…

Read More