नवरात्र के तीसरका दिने देवी दुर्गा के तीसरा स्वरूप देवी चंद्रघंटा के करीं पूजा-आराधना

जय मां चंद्रघंटा देवी ॐ या देवी सर्वभूतेषु मां चंद्रघंटा रूपेण संस्थिता। नमस्तस्यै, नमस्तस्यै, नमस्तस्यै, नमो नमः। नवरात्र के तीसरका दिने देवी दुर्गा के तीसरा स्वरूप देवी चंद्रघंटा के पूजा-आराधना कइल जाला। नवरात्र में दुर्गा-उपासना के तीसरा दिन के पूजा के विशेष महत्व होला। मां दुर्गाजी के तीसरा शक्ति के नाम चंद्रघंटा हऽ। नवरात्र उपासना में तीसरा दिन इन्हीं के विग्रह के पूजन-अर्चन कइल जाला। माई के ई स्वरुप परम शान्तिदायक आउर कल्याणकारी हऽ। बाघ पर सवार मां चंद्रघंटा के शरीर के रंग सोना के समान चमकीला बा। इनका मस्तक…

Read More