जिम्मेदारी के निर्वाहन में कोताही

coronavirus कोरोना वायरस

जिम्मेदारी के निर्वाहन में कोताही- समसामयिक घटनाचक्र पर लिखल शशि अनारी जी के रचना एक बार एगो राजा के राज में महामारी फइल गइल चारो ओर लोग मरे लगले राजा महामारी रोके खाति बहुतेरे उपाय करववले बाकि महामारी के असर कम ना भइल लोगन के मुवल बन ना भइल ! दुखी राजा भगवान से प्रार्थना करे लगले कि हे मालिक अब हम का करी तले अचके मे आकाशवाणी भइल आसमान से आवाज आइल कि ऐ राजा ! तहरा रजधानी के बीचो बीच जवन इनार बा उ सूखि गइल बा अगर…

Read More