सरकार कृषि कानूनन के डेढ़ साल खाती स्थगित करे खाती तइयार

समाचार डेस्क, भोजपुरी समय किसान संगठन अउरी सरकार के बीच 20 जनवरी बुधवार के 10वां दौर के बातचीत भइल हऽ। एह बातचीत के केवनो नतीजा ना निकलल हऽ। बेनतीजा बातचीत के देखत अउरी गतिरोध खत्म करे खाती सकार सरकार तीनों कृषि कानूनन के कार्यान्वयन के डेढ़ साल ले खाती स्थगित करे प्रस्ताव देले बे ताकि एह समय में किसान अउरी सरकार चर्चा कऽ के समस्या के समाधान निकाल सकें। किसान संगठन सरकार के एह प्रस्ताव के अभी तुरन्त केवनो उत्तर नइखन सऽ देले। उत्तर देबे खाती किसान संगठन 22 जनवरी…

Read More

किसान बिल के विरोध में निकले वाली ट्रैक्टर रैली पऽ सुप्रीम ना करी हस्तक्षेप

समाचार डेस्क, भोजपुरी समय कृषि बिल के खिलाप धरना पऽ बइठल किसान गणतंत्र दिवस के दिने दिल्ली में ट्रैक्टर रैली निकाले के योजना बनवले बाड़े। एके ले के चारों तरह-तरह के बात हो रहल। बाकिर एह रैली के अनुमति अबले दिल्ली पुलिस से नइखे मिलल। एही ट्रैक्टर रैली के ले के सुप्रीम कोर्ट के सुनवाई में सुप्रीम साफ कऽ देले बे कि ऊ एह रैली में केवनो हस्तक्षेप ना करी। कानून व्यवस्था पुलिस के जिम्मेदारी बा अउरी एकरा संबन्ध में पुलिस निर्यण ली। केन्द्र सरकार के वकील कोर्ट में सुनवाई…

Read More

खेत बघार में हेतना मायूसी, काहे?

agriculture in India

हमनीके देश के पहचान गाँवन के देश के रूप में ही होला आ देश के अधिका आबादी के ठाँव आजो गाँवे बाटे । जिये खाये के साधन ह खेती भा ओकरा पर निर्भर रोजी रोजगार। खेती हमनीके ताकत ह अउर एह ताकत के बनवले रखला के काम बा। धीरे धीरे परिवार के बढ़ला से जोत के जमीन में कमी एगो कड़वा सच्चाई बा। गाँव के बैकल्पिक रोजगार के जरूरत बा। समूचा दुनियाँ में दूसरा नम्बर के खेती लायक जमीन बा हमनीके पास। कईगो फसल के उत्पादन में त हमनीके पहिला…

Read More