राष्ट्र एकीकरण के चुनउती – २: इंस्ट्रूमेंट ऑफ़ एक्सेसन

इंस्ट्रूमेंट ऑफ़ एक्सेसन पिछला भाग में हमनी के देखनीजा कि लार्ड माउंटबेटेन पहिले विभाजन प जोर दिहले काहे कि उनका विश्वास ना होत रहे कि कवनो एगो राष्ट्र, एह विविधता के लोकतान्त्रिक रूप से चला पाई। खैर ओकरा बाद उनकर सलाहकार वी.पी. मेनन, माउंटबेटेन एथिकल पाठ पढईले आ जोर देले कि अभियो से गलती सुधारल जा सकेला अगर उ सारा राजवाडनं के भारत में विलय करे में मदद करस। एह सब से भारत अउरी मजबूत होई आ आवे वाला पीढ़ी उनका के भारत के एकीकरण करे वाला नायक के रूप…

Read More