डॉ. मुन्ना पांडेय के मुहिम के भइल असर- गोपालगंज जिला प्रशासन फत्तेबहादुर शाही के नाम के सोझा से हटवलस डाकू के उल्लेख

गोपालगंज जिला प्रशासन द्वारा वेबसाइट पर पहिले दिहल जानकारी के स्क्रीनशॉट
जिला प्रशासन के वेबसाइट पर अब दिहल जानकारी के स्क्रीनशॉट

 भोजपुरी समय, राम प्रकाश तिवारी, गोपालगंज/नई दिल्लीः पिछला डेढ़ बरिस से जवना मुहिम में डॉ. मुन्ना पांडेय लागल रहनी हं ऊ मुहिम के पहिलका चरण आज ओह बेरा पूरा हो गइल जब गोपालगंज जिला प्रशासन जन दबाव में आके अपना आधिकारिक वेबसाइट पर गोपालगंज के बारे में दर्ज उल्लेख में से आजादी के पहिलका लड़ाई से भी पहिले भोजपुरिया क्षेत्र में अंग्रेज आ ईस्ट इंडिया कंपनी के खिलाफ युद्ध के आगाज करे वाला वीर स्वतंत्रता सेनानी महाराजा फत्त्तेबहादुर शाही के बारे में दर्ज गलत आ अपमानजनक जानकारी के हटा दिहलस हऽ। दरअसल गोपालगंज जिला प्रशासन अपना वेबसाइट पर फतेबहादुर शाही के एगो डाकू के रुप में उल्लेख कइले रहल हऽ। जबकि वास्तविकता में ऊंहां के एगो स्वतंत्रता सेनानी रहनी।

एह संबंध में भोजपुरी समय से बात करत डॉ. पाण्डेय भोजपुरी समय से कहनी हऽ कि एह संबंध में उनकरा एगो मित्र से लगभग डेढ़ बरिस पहिले जानकारी मिलल जवना के बाद ऊ एह के खिलाफ सोशल मीडिया आ व्यक्तिगत चिठ्टीयन के द्दारा लगातार सरकारी तंत्र के अवगत करइले आ एह जानकारी के ठीक करे के गोहार लगवले। एह मुहिम में ऊंहां के संगे महाराजा परिवार से जुड़ल लोग आ गोपालगंज एवं भोजपुरी क्षेत्र के जनता आ साहित्यकार के संगे संगे इतिहासकार लोग आ युवा भी जुड़ले आ आज सभकरा सम्मिलित प्रयास के कारण ही जिला प्रशासन एह गलत जानकारी के अपना वेबसाइट से हटा दिहले बा। एह बात खातिर हम एह मुहिम में साथ देबे वाला तमाम लोग के हार्दिक धन्यवाद दे रहल बानी।

फतेबहादुर शाही जी के सम्मान वापिस दिवावल ही हमारा उद्देश्य बा।-डॉ. मुन्ना पांडेय

 

Related posts

Leave a Comment

15 − four =