पाती के संपादक वरिष्ठ भोजपुरी साहित्यकार डॉ. अशोक द्विवेदी के मिलल साल 2020 के अंजन सम्मान

डॉ. अशोक द्विवेदी(फेसबुक वाल से साभार)

राम प्रकाश तिवारी, भोजपुरी समय, अमहीं मिश्र गोपालगंजः 23 नवंबर 2020 के कोरोनाकाल का डेग-डेग पर बन्हन का बावजूदो अमहीं मिसिर, भोरे, गोपालगंज में इतिहास रचाइल, जब “जय भोजपुरी- जय भोजपुरिया” के अध्यक्ष सतीश कुमार त्रिपाठी (सपत्नीक) उपस्थित गणमान्य लोग ज्वाला सिंह (अध्यक्ष- सारण भोजपुरिया समाज, वरिष्ठतम सवांग- जय भोजपुरी-जय भोजपुरिया), विमलेन्दु भूषण पाण्डेय(संस्थापक- सारण भोजपुरिया समाज आ वरिष्ठ परामर्शी- जय भोजपुरी-जय भोजपुरिया), प्रखरवक्ता जीतेन्द्र द्विवेदी, केशव तिवारी (चुन्नू बाबा), भावेश अंजन, राम प्रकाश तिवारी(संपादक, भोजपुरी समय.डॉट कॉम)  आ अन्य का साथे दीया जरवनीं आ महाकवि “अंजन जी” का चित्र पर माल्यार्पण कइनीं। एह मौका पर आचार्य रत्नेश कुमार मिश्र के मांगलिक स्वस्तिवाचन वातावरण के दिव्य बना दिहलसि “जय भोजपुरी-जय भोजपुरिया” परिवार द्वारा दिव्यलोक में विराजमान अपना पुरोधा आ सुकोमल गीतकार के स्मृति में देबेवाला सम्मान “अंजन सम्मान” भोजपुरी के सशक्त हस्ताक्षर आ भोजपुरी खातिर आपन जीवन खपा देबेवाला परम सम्माननीय डा. अशोक द्विवेदी  के दे के परिवार खुद अपना के गौरवान्वित समुझलसि। उहाँ की अस्वस्थता का चलते अनुपस्थिति का कारन उहाँ के प्रतिनिधि गाजीपुर के बहुमुखी प्रतिभा से सम्पन्न नौजवनान कवि संजीव कुमार त्यागी ई सम्मान ग्रहन कइनीं। एकरा बाद उपस्थित कवि सब के अंगवस्त्र ओढ़ा के आ माल्यार्पण का साथे स्वागत भइल। भोजपुरी कविसम्मेलन के शानदार शुरुआत संजय मिश्र संजय जी का संचालन, बेतिया से आशीर्वाद बरिसावे पहुँचल वरिष्ठ कवि आदरणीय श्री अखिलेश्वर मिश्रा जी की अध्यक्षता आ श्रीमती माया शर्मा जी की सरस्वती वंदना से भइल। भारत का कई राज्यन से पधारल नौजवनान आ वरिष्ठ कवि सब अपनी अलग-अलग बिधा में रचल रचनन के सुना के उपस्थित सुनवइया सब के अबिस्मरणीय आनन्द से भरि दिहल आ बदला में जोरदार ताली, जस, नाम आ शोहरत के हकदार भइल सब।

Related posts

Leave a Comment

4 × 1 =