भोजपुरी के अस्सिटेंट प्रोफेसर बनले छपरा के लाल डॉ. पवन कुमार,

धर्मेंद्र पांडेय, भोजपुरी समय, मशरक (सारण): भोजपुरिया बधार खातिर एगो खुशखबरी बा। दरअसल बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर विश्वविद्यालय मुजफ्फरपुर, बिहार में सारण जिला के तरैया थाना क्षेत्र के डुमरी छपिया गांव के कन्हैया साह के बेटा डॉ. पवन कुमार के चयन भोजपुरी में असिस्टेंट प्रोफेसर के पद पर बिहार राज्य विश्वविद्यालय सेवा आयोग पटना के द्वारा कइल गइल बा। पवन कुमार के एह उपलब्धि के खबर सुनके सगरी जवार में खुशी के लहर दउड़ गइल बा। एही क्रम में एतवार के मशरक रेलवे स्टेशन रोड पर एगो सम्मान कार्यक्रम के…

Read More

गरदन माला हृदय अघाई

गरदन माला हृदय अघाई माला मालिन बनावेलिन, माली माला बेचेलनि। माला फूल के होला, माला कागज के होला, माला पनही के होला। माला छोट होला, माला मोट होला, माला हलुक होला, माला भारी होला। माला असली होला,माला नकली होला, माला बाली के होला, माला सुग्रीव के होला। माला गुथाला, माला गिनाला, माला जपाला। माला किनाला, माला बेचाला। रामलीला में माला उठेला, मंदिर में माला चढ़ेला, रैली में माला फेकाला । माला जिन्दा पेन्हेला, माला मुर्दा पेन्हेला। माला हार कहाला, बाकि माला जीत के होला। माला गोल होला, माला साल ओढ़ा…

Read More

मढ़ौरा गोरा हत्याकांड

मढ़ौरा गोरा हत्याकांड  ओने अंग्रेजन के गोली ऐने किसानन के टोली गूंजे जय हिन्द के बोली उ मरहौरा में…. ई मास्टर अजीज द्वारा गावल खाली एगो गीत ना ह बलुक इतिहास के उ दस्तावेज ह जवन खाली अइसन कुछ गीत में दब के रह गइल बा। आज हमनी अइसने गुमनाम दस्तावेज में से भारतीय स्वाधीनता संग्राम के कुछ अइसन क्रांतिकारियन के याद कइल जाई जेकरा के भूला दिहल गइल बा। भारतीय स्वतंत्रता संग्राम खातिर अगस्त महीना के बहुत मोल बा। 15 अगस्त के आजादी त मिलबे कईल बाकी एकरा अलावा…

Read More

रेडियो के लोहा सिंह – पद्मश्री रामेश्वर सिंह कश्यप

आज रेडियो के मशहूर नाटक ‘तसलवा तोर की मोर’ के रचयिता आ लोहा सिंह जइसन अमिट छाप छोड़ने वाला किरदार के अपना आवाज से जनमानस के स्मृति पटल पर अंकित करें वाला सुप्रसिद्ध साहित्यकार श्री रामेश्वर सिंह कश्यप जी के जन्मदिन बा, एह अवसर पर वरिष्ठ रंगकर्मी आ पत्रकार के संगे संगे साहित्यकार श्री लवकांत सिंह लव जी अपना लेखनी का माध्यम से रामेश्वर जी के श्रद्धासुमन दे रहल बानी। रेडियोके लोहा सिंह – पद्मश्री रामेश्वर सिंह कश्यप     अध्यात्म से लेके विज्ञान तक, जवान से लेके किसान तक,…

Read More

का ह कजरी?

सावन के एगो पख बीत रहल बा आज, मने सावन के आज अमावस ह। सावन में अइसे त धरती हरियराइल रहेली आ धरतीए ना बलुक पूरा संसार हरियर भइल रहेला। एह दौरान गांव जवार में पहिले नया उमिर के लइकिन आ नया नोचर कनिया लोग झिलुआ लगाई लो आ कजरी गाई लो। अबहूंओ कतहीं कतहीं ई सुना जाला, त आखिर का ह कजरी? एकर का कहानी ब आईं कजरी के बारे में कुछ जानकारी लिहल जाउ प्रसिद्ध लोकगीत गायक श्री शशि अनाड़ी ब्यास जी के लिखल एह आलेख से- कजरी…

Read More

टीम इंसानियत जिंदाबाद अलग तरीका से मनवलस गुरु पूर्णिमा

भोजपुरी समय, शैलेन्द्र कुमार साधु, किशुनपुर, सारण: गुरु पूर्णिमा के दिने जहां सभे आपन आपन आदरणीय गुरुदेव के पूजा करे आ ऊंहा से आशीर्वाद लेवे में लागल रहे, ओही समय में छपरा जिला के जलालपुर प्रखंड में युवा आ प्रौढ़ लोगन के बनल संगठन इंसानियत जिंदाबाद के सदस्य कुछ अलग काम कइले। दरअसल ई लोग पर्यावरण संरक्षण खातिर पौधन के दान आ शिवालय में भजन कीर्तन क के गुरु पूर्णिमा मनवले। एह संस्था के सदस्य लोग प्रखंड के किशुनपुर में स्थित शिवालय परिसर में संचालित वेद-वेदांग संस्कृत विद्यालय के कर्ताधर्ता…

Read More

नवमी के करीं माई सिद्धिदात्री के पूजा

चैत्र नवरात्र के आज नऊंवां दिन ह। आज देवी दुर्गा के नंऊवा स्वरूप माई सिद्धिदात्री के पूजा कइल जाला। आज साधक के मन निर्वाण चक्र में स्थित रहेला। माई सिद्धिदात्री भगवान विष्णु के अर्धांगिनी हईं| जइसन कि सिद्धिदात्री, नांव से स्पष्ट बा कि माई सिद्धियन के देवे वाला हई। एही से अइसन कहल जाला कि इनकर पूजा कइला से आदमी के हर तरे के सिद्धि प्राप्त होखेला। चूंकि माई अपना एह रुप में कमल पर विराजमान बानी जवना के कारण इहां के कमला माइयो कहल जाला। मधु आ कैटभ के…

Read More

कोरोना वायरस के दूसरका लहर के बीचे मोदी कइले देश के संबोधित

राम प्रकाश तिवारी, भोजपुरी समय, नई दिल्लीः  कोरोना वायरस के दूसरका लहर के बीचे  पीएम मोदी देश के संबोधित कइले। अपना संबोधन के शुरुआत में मोदी कोरोना वायरस के एह दूसरका लहर में आपन जान गंवावे वाला लोगन के प्रति आपन शोक जतवले आ एह दौरान ओह सभे कोरोना वारियर्स के सराहना कइले जे एह महामारी के घरी में आपन जिनगी के परवाह कइले बिना दिन रात लोग के सेवा में जुटल बा। पीएम मोदी जनता से निहोरा कइले कि हमनी के एह विकट इस्थिति में आपन धीरज नइखे छोड़े…

Read More

नवरात्र के आठवां दिने माई के महागौरी रुप के उपासना के विधान हऽ

श्वेते वृषे समारुढा श्वेताम्बरधरा शुचिः। महागौरी शुभं दद्यान्महादेवप्रमोददा ।। नवरात्र के नौ दिन के पावन पर्व अब अपना अंतिम पड़ाव पर बा। नवरात्र के नौ दिन में रोज देवी दुर्गा के नौ रूपन में से एक रुप के पूजा कइल जाला बाकिर नवरात्र के आठवां आ नंउवाँ दिने दुर्गा जी के नौ रूपन के प्रतीक में कन्या पूजन के विधान बा। कन्या पूजन एह पर्व के महत्व के आउर बढ़ा देला। त आईं आज जानल जाओ देवी दुर्गा के आठवां स्वरुप के बारे में । देवी दुर्गाजी के आठवां शक्ति…

Read More

नवरात्र के सातवां दिने करीं महामाई कालरात्रि के उपासना

एकवेणी जपाकर्णपूरा नग्ना खरास्थिता। लम्बोष्ठी कर्णिकाकर्णी तैलाभ्यक्तशरीरिणी।। वामपादोल्लसल्लोहलताकण्टकभूषणा। वर्धन्मूर्धध्वजा कृष्णा कालरात्रिर्भयन्करि।। माई दुर्गा के सातवां शक्ति भा स्वरुप के भगवती कालरात्रि के नाम से जानल जाला। देवी कालात्रि के काली, महाकाली, भद्रकाली, भैरवी, मृत्यू, रुद्रानी, चामुंडा, चंडी आउर दुर्गा देवी के कइगो विनाशकारी रूप में से एगो मानल जाला। माई के रौद्री आ धुमोरना नाम लोगन में तनी कम प्रसिद्ध नामन में से बा। नवरात्र के सातवां दिने महामाई कालरात्रि के उपासना के विधान बा। अइसन मानल जाला कि जहंवां देवी कालरात्रि के एह रूप में आगमन होला ओजा से…

Read More