भुकभुकवा के छापाखाना

कोरोना महामारी आ एकरा कारण भइल वैश्विक लॉकडाउन के कारण घर में बइठल बइठल सभकर मन अगुता गइल बा। अइसन में जहां सरकार के द्वारा धीरे धीरे लॉकडाउन खोले के प्रक्रिया शुरु हो चुकल बा आ जिनगी के गाड़ी अपना पटरी पर लवट रहल बिया। त एह समय में रउआ सभे के अपना चुटीला हास्य व्यंग्य के रचना से हंसावे आ गुदगुदावे खातिर भोजपुरी समय.कॉम लेके आइल बा दिल्ली एनसीआर में भोजपुरिया कवि के नाम से विख्यात प्रसिद्ध साहित्यकार, कवि आ भोजपुरी साहित्य सरिता के संपादक आदरणीय जयशंकर प्रसाद द्विवेदी…

Read More

‘सूपवा बोले त बोले चलनियों बोले, जेम्मे बाटे बहत्तर छेद’

भोजपुरी साहित्य के सुप्रसिद्ध पत्रिका भोजपुरी साहित्य सरिता के  संपादक, सुप्रसिद्ध साहित्यकार, व्यंग्यकार के संगे संगे भोजपुरी भाषा के प्रखर पैरोकार श्री जयशंकर प्रसाद द्विवेदी उर्फ जे.पी.भइया के लिखल एगो टटका व्यंग रचना के पढ़ीं आ भोजपुरिया बधार में उपस्थित लक्षणा आ व्यंजना के आनंद उठाईं। का जमाना आ गयो भाया,जेने देखी, भउका भर-भर के गियान बघारल जा रहल बा। गियान बघारे का फेरा में दरोगा, सिपाही से लेके जेब कतरा आ चोरन के सरदारो तक लागल बा लो। अपना लोक में एगो कहाउत पुरनिया लोग क़हत ना अघालें कि…

Read More

‘भोजपुरी साहित्य में महिला रचनाकारन के भूमिका’ के संपादक लोग सम्मानित भइलें

गाजियाबाद । पूर्वांचल भोजपुरी महासभा गाजियाबाद का तत्वावधान में अग्रसेन भवन,लोहिया नगर में भोजपुरी सम्मेलन आ होली मिलन/वसंतोत्सव के आयोजन कइल गइल।एह आयोजन में मुख्य अतिथि का रूप में श्रीमती  आशा शर्मा (महापौर), गाजियाबाद सिरकत कइली। कार्यक्रम का आरंभ अतिथियन द्वारा दीप प्रज्वलन आ सरस्वती वंदना के संगे भइल।  सरस्वती वंदना रोमी माथुर जी के मधुर कंठ सम्पन्न भइल।कार्यक्रम का शुरू में पूर्वांचल के विशिष्ट विभूति लोगन के सम्मानित कइल गइल।एह बरीस पूर्वांचल भोजपुरी महासभा महिला लोगन पर केंद्रित भोजपुरी के पहिलकी किताबि ‘भोजपुरी साहित्य में महिला रचनाकारन के भूमिका’…

Read More

‘भोजपुरी साहित्य में महिला रचनाकारन के भूमिका’ किताबि के लोकार्पण आउर परिचर्चा

अंतर्राष्ट्रीय मातृभाषा दिवस का पूर्व संध्या पर काशी हिंदू विश्वविद्यालय के ‘भोजपुरी अध्ययन केंद्र’ कला संकाय के राहुल सभागार में केंद्र के समन्वयक प्रो० श्रीप्रकाश शुक्ल जी का अध्यक्षता में भोजपुरी पुस्तक ‘भोजपुरी साहित्य में महिला रचनाकारन के भूमिका’ नामक पुस्तक के लोकार्पण आ सह परिचर्चा के आयोजन कइल गइल। एह कार्यक्रम के आयोजन शोध संवाद समूह आ सर्व भाषा ट्रष्ट नई दिल्ली का संयुक्त तत्वावधान में कइल गइल। सबसे पहिले कार्यक्रम का शुरुवात प्रेरणास्रोत पंडित मदन मोहन मालवीय जी के मूर्ति पर माल्यार्पण करत विश्वविद्यालय के कुलगीत गायन आ…

Read More

दिल्ली में भव्यता आ धूमधाम से मनावल गइल सर्व भाषा ट्रस्ट के दोसरका वार्षिकोत्सव

भोजपुरी समय दिल्ली: भाषा, साहित्य, कला आउर संस्कृति के संरक्षण-संवर्धन खातिर समर्पित संस्था सर्व भाषा ट्रस्ट के दोसरका वार्षिकोत्सव बड़ा ही भव्य तरीका से गांधी शांति प्रतिष्ठान में आयोजित कइल गइल। वार्षिकोत्सव में देश के अलग-अलग भाग से लगभग चौबीसगो भाषा के साहित्यकारन, भाषाविदन, चित्रकारन आ अन्य विभूतियन के सम्मानित कइल गइल। वार्षिकोत्सव में बतौर मुख्य अतिथि महामंडलेश्वर मार्तण्ड पुरी उपस्थित रहले। कार्यक्रम के अध्यक्षता सर्व भाषा ट्रस्ट के अध्यक्ष आ वरिष्ठ साहित्यकार श्री अशोक लव कइले।             कार्यक्रम के शुरुआत दीप प्रज्ज्वलन आ माँ…

Read More

‘भोजपुरी साहित्य में महिला रचनाकारन के भूमिका’ के लोकार्पण अउरी पुस्तक चर्चा

पुस्तक चर्चा भोजपुरी किताब

नई दिल्ली महिला लोगन के जोगदान हमेसा से समाज, संस्कृति अउर सभ्यतन के बनावे आ जोगावे में रहल बा। बात भाषा के होखे भा संस्कृति के, महिला लोग एकरा हमेसा से भरले-पूरले बानी। महिला लोगन के योगदान हर भाषा, सभ्यता आउर संस्कृति में रहल बा। महिला लोगन के एही योगदान का बटोरे वाली ऐतिहासिक किताबि ‘भोजपुरी साहित्य में महिला रचनाकारन के भूमिका’ का भव्य लोकार्पण गांधी शांति प्रतिष्ठान में सांझ 20 जनवरी 2020 के भइल। कार्यक्रम के अध्यक्ष श्री अशोक लव किताब के उपयोगिता बतावत कहलें कि सर्व भाषा ट्रस्ट…

Read More