भाई के संगे मिलके बर्दी वाली मेहरारू अपना पति के दिहलक मौत

नितिन अवस्थी ,भोजपुरी समय, मिर्जापुर: विंध्याचल थाना क्षेत्र  के गोंसाई पुरवा में 3 फरवरी 2020 के कार्पेट व्यवसायी प्रमोद सिंह हत्या कांड के एतवार के पुलिस खुलासा कर दिहलस। हत्या के आरोप में पुलिस मृतक प्रमोद के मेहरारू कंचनलता आ कंचनलता के भाई अम्बरीष के गिरफ्तार कर जेल भेज देले बिया। जानकारी के मोताबिक गिरफ्तार कंचनलता अबहीं कौशाम्बी में होमगार्ड विभाग में प्लाटून कमांडर के पद पर 2010 से तैनात रहली हऽ।

प्रमोद पर रहल हऽ आरोपिता के अपहरण के आरोप

पुलिस के मोताबिक मृतक प्रमोद सिंह 27.6.1997 के अपने गांव के कंचनलता के संगे बियाहह कइले रहस। उनकरा पर इहो आरोप लागल रहे कि ऊ(मृतक)अपहरण कऽ के कंचनलता से जबरी बियाह कर लिहले रहस। तबे से कंचनलता के परिवार उनकर खोज करत रहल हऽ। ओहिजा प्रमोद के खिलाफ अपहरण के मुकदमा भी सहजनवा गोरखपुर में दर्ज बडूवे। पुलिस के गिरफ्तार आरोपीयन से मिलल जानकारी के मोताबिक पारिवारिक रंजिश में कंचनलता के बाप आ भाई मिल के प्रमोद के भाई के हत्या कर दिहल लोग। ऐने कंचनलता के खोजे में उनकरा भाई के लाश कानपुर में रेलवे ट्रैक पर संदिग्ध परिस्थितियन में मिलल रहे। जवना के बाद उनकर परिजन प्रमोद के परिवार पर हत्या के अंदेशा जतवले रहे लोग। बतावल जा रहल बा कि तबे से प्रतिशोध के भावना अम्बरीष के मन में रहल हऽ। एह बीच कंचनलता की बरिस के बाद अपना बहिन के माध्यम से अपना परिवार से संपर्क कइली।

मीडिया के एह घटना के बारे में बतावत डा० धर्मवीर सिंह, पुलिस अधीक्षक, मीरजापुर।

तब जा के उनकरा परिवार के उनकर आ प्रमोद के पता चलल। पुलिस के अनुसार साजिश के तहत अम्बरीष अपना बहन कंचनलता के लेके तीन फरवरी 2020 के कौशाम्बी से विंध्याचल पहुँचल आ ऊ अपना कार्पेट के कारखाना में सुतल प्रमोद के हत्या कर दिहलस। पुलिस घटना के खुलासा करत दूनू जने के जेल भेज दिहले बा।

Related posts

Leave a Comment

fourteen + nine =