केकरा मिली ताज, केकर रही लाज, अब जनता बनल सरताज

दिल्ली विधानसभा खातीर चुनाव प्रचार बियफे के साँझ छह बजे रोक गइल। अब 8 फरवरी के दिल्ली के 70गो विधानसभा सीट पर वोट डालल जाइ, जेकरा बाद 668 लोग के भाग के फैसला ईवीएम में बंद हो जाई अउरी जब एगारह फरवरी के वोटन के गिनती होखी, त ओहि दिन एह लोगन के भाग के नतीजा के भी घोषणा होखी ।

668 उम्मीदवार आजमा रहल बाड़े आपन भाग
अबकी दिल्ली में होखे वाला विधानसभा चुनाव में वर्तमान मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, भाजपा के दिग्गज नेता विजेंदर गुप्ता अउरी कांग्रेस के सरकार में मंत्री रहल अरविंदर सिंह लवली सहित करीब 668 गो उम्मीदवार आपन भाग आजमा रहल बाड़े।

चुनाव आयोग से मिलल जानकारी के मोताबिक दिल्ली में सबसे अधीका 28गो उम्मीदवार नई दिल्ली विधानसभा सीट से अउरी सबसे कम 4गो उम्मीदवार पटेल नगर सीट से चुनाव में आपन किसमत आजमावत बाडन जा।

सबसे हॉट सीट बा नई दिल्ली विधानसभा सीट
बता दिहल चाहेब कि नई दिल्ली सीट उहे सीट ह जहंवा से मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल चुनावी ताल ठोकले बाडन आ सबसे पहिला बेर के अपना चुनावी सफ़र के शुरुआत एही सीट पर ओह समय के तीन बेर के मुख्यमंत्री आ दिल्ली कांग्रेस के कद्दावर नेत्री स्वर्गीय शीला दीक्षित जी के हरा के कइले रहस । पछिला बेर के चुनाव में अरविंद केजरीवाल एही सीट से जीतल रहलन । अब एक बार फेर से ऊ एह सीट से चुनाव के मैदान में उतरल बाडन, हालांकि राजनीतिक गलियारन में इहो कहा रहल बा कि बीजेपी आ कांग्रेस ई सीट एक तरे केजरीवाल के तोहफा में दे दिहले बा,एकरा पाछा के कारण एह सीट पर विपक्ष के द्वारा कमजोर प्रत्याशी के उतारल मानल जा रहल बा।

नामांकन से लेके अबले चर्चा में रहल बा ई चुनाव
अबकी बेर पर्चा भरे के आखिरी दिन केजरीवाल सहित करीब 200 उम्मीदवार आपन पर्चा दाखिल कइलन । मध्य दिल्ली के जामनगर हाउस में नई दिल्ली के निर्वाचन अधिकारी के कार्यालय में उम्मीदवारन के भारी भीड़ के चलते केजरीवाल के अपना भांज खातीर लगभग छव घंटा से भी अधिका समय तक इंतजार करे के पड़ल रहे। आ एह पर आप पार्टी के नेता लोग बहुत हो हल्ला भी मचवले रहले, खैर मुख्यमंत्री के एह तरे इंतजार कइल कई नेताजी लोग खातिर एगो मिशाल बन गइल ।

2015 में आप के सुनामी से केहू ना बांचल रहे
2015 के विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी दिल्ली के 70 में से 67गो सीटन पर जीत हासिल कऽके इतिहास रचले रहे , जबकि भारतीय जनता पार्टी(BJP) के हिस्सा में खाली तीन गो सीटे आइल रहे आ ओहिजा कांग्रेस के त समहुते ना भइल रहे। तबके नतीजन के देख के त सभे अबाक रहे । अरविंद केजरीवाल के अगुवाई में आम आदमी पार्टी (AAP)  रिकॉर्ड 67 विधानसभा सीट पर जीत हासिल कऽके इतिहास रचले रहे। एह विशाल जीत के दम पर ही अरविंद केजरीवाल दिल्ली के मुख्यमंत्री बनलन।

अब संवाद ना आसिरबाद के बा बेरा
अब जनता से संवाद के समय त ओरा गइल, अब देखल जाव जनता जनार्दन केकरा के आपन मतदान रूपी परसादी दिहन । केकरा के ताज मिली आ केकरा के बिपक्ष में बइठे के परी । पूरा देश के नजर बा दिल्ली के चुनाव पऽ । मतदान राउर संवैधानिक अधिकार ह अउरी जिम्मदारी भी। जदि रउवा दिल्ली के मतदाता बानी त 08 फरवरी के मतदान जरूर करीं ।

                                                                                                       

 ✍️तारकेश्वर राय “तारक”

Related posts

Leave a Comment

16 − eight =