स्वस्थ रहे के सस्ता साधन बा योग – योगाचार्य ज्वाला सिंह

स्वस्थ रहे के सस्ता साधन बा योग – योगाचार्य ज्वाला सिंह

शिविर में शामिल शिक्षकन के योग सिखावत योगाचार्य ज्वाला सिंह

नितिन अवस्थी, भोजपुरी समय, मीरजापुर: चुनार स्थित आदर्श जनता महाविद्यालय में बीoएडo विभाग में तीन दिन के योग शिविर के आयोजन कइल गइल। यु़वा भारत के जिला प्रभारी योगाचार्य ज्वाला सिंह भोरे भोरे पावन ओमकार मंत्रो के संगे योगारम्भ करवले।
आसपास के कइगो जिला के शिक्षक भइले शिविर में शामिल
एह शिविर में वाराणसी, चंदौली, सोनभद्र आ जिला के विभिन्न इलाकन से आइल अध्यापक अउर अध्यापिका लोग के भस्त्रिका कपाल भाति, त्रिबंध उज्जायी, अनुलोम – विलोम, भ्रामरी, उध्दगीत प्राणायाम के संगे संगे सुखासन, पदमासन, सिद्धासन,  दण्डासन अउर बज्रासन आदि आसनन के विधिपूर्वक अभ्यास के साथे साथ एह आसनन से होखे वाला लाभन के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी दिहल गइल । एह मौका पर योगाचार्य सिंह  कहले कि आज के समय में अगर स्वस्थ रहे के बा  दवाइयन के सेवन से बांचल रहे के बा त योग के अपना दिनचर्या में शामिल करे के होखी । एकरा अलावा कवनो दोसर साधन नइखे।
*सरस्वती जी के मूर्ति पर माला चढ़ाके भइल कार्यक्रम के शुरुआत*
कार्यक्रम के शुभारंभ कॉलेज के प्रबंधक दिलीप सिंह पटेल माँ सरस्वती के प्रतिमा पर माल्यापर्ण कऽके कइले।  एह मौका पर एचओडी श्रीकांत सिंह कहले कि योग खातिर सभे के धर्म, पंथ, मजहब से हटके सोचे के चाहीं। आगे ऊ कहलें कि योग अइसन फायदा वाला काम के सभ वर्गन के लोगन के करेके चाहीं। तबे हमनी के देश आ समाज स्वस्थ रही। ओहिजा कार्यक्रम संयोजन में प्रवीण आर्य की भूमिका सराहनीय रहल।

Related posts

Leave a Comment

twelve + 4 =